प्रधानमंत्री ने G20 बैठक में किया खुलासा, AI संचालित ‘भाषिणी’ पर काम कर रही सरकार

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज जी20 डिजिटल अर्थव्यवस्था को लेकर मंत्रियों की बैठक को वर्चुअली संबोधित किया, इस दौरान उन्होंने भारत के तेजी से डिजिटलीकरण (Bhashini AI) पर चर्चा की। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि भारत में 850 मिलियन से अधिक इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं, जो विश्व स्तर पर सबसे किफायती डेटा शुल्क से लाभान्वित होते हैं।

पीएम ने कहा कि हमने शासन को बेहतर बनाने, तेज और पारदर्शी, समावेशी, और अधिक कुशल बनाने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग किया है।

Sponsored Ad

AI को लेकर की अहम घोषणा (Bhashini AI)

बैठक के दौरान पीएम ने एक महत्वपूर्ण घोषणा की, जिसमें कहा गया कि वे “भाषिनी” (Bhashini AI) नामक एक भाषा अनुवाद मंच का निर्माण करेंगे जो एआई द्वारा संचालित होगा। इस मंच का उद्देश्य भारत में बोली जाने वाली विविध भाषाओं को समायोजित करके डिजिटल समावेशिता को बढ़ावा देना है। इसके अलावा, भारत का डिजिटल सार्वजनिक बुनियादी ढांचा स्केलेबल, सुरक्षित और समावेशी समाधान पेश करके वैश्विक चुनौतियों का समाधान करने के लिए तैयार है।

भारत में सबसे ज्यादा डिजिटल पेमेंट

पीएम मोदी ने कहा कि भारत डिजिटल भुगतान के मामले में अग्रणी है, पूरी दुनिया में 45 प्रतिशत डिजिटल भुगतान भारत में होते हैं। प्रधान मंत्री ने बैंक खातों में सरकारी सहायता के सीधे हस्तांतरण के माध्यम से भ्रष्टाचार में कमी पर भी प्रकाश डाला, जिसके परिणामस्वरूप 33 अरब डॉलर से अधिक की बचत हुई।

Sponsored Ad

Sponsored Ad

JAM ट्रिनिटी (Jam Trinity) से लोगों को लाभ हुआ है। प्रधान मंत्री ने कहा कि आधार, हमारा विशिष्ट डिजिटल पहचान मंच, हमारी 1.3 बिलियन की आबादी को कवर करता है। प्रधानमंत्री ने आगे जोर देकर कहा कि हमने भारत के भीतर वित्तीय समावेशन में क्रांतिकारी बदलाव लाने के लिए जन धन बैंक खातों, आधार और मोबाइल सेवाओं से युक्त Jam Trinity का प्रभावी ढंग से उपयोग किया है।

Read More: Click Here for Latest Hindi News

gadget uncle desktop ad

पीएम मोदी के अनुसार, हर महीने, हमारी तत्काल भुगतान प्रणाली, यूपीआई पर लगभग 10 बिलियन लेनदेन होते हैं, उन्होंने टिप्पणी की कि भारत ने पिछले 9 वर्षों में एक अद्वितीय डिजिटल परिवर्तन देखा है। यह यात्रा 2015 में हमारे ‘डिजिटल इंडिया’ अभियान की शुरुआत के साथ शुरू हुई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x