Vinegar Meaning in Hindi | सेब के सिरके के फायदे, साइड इफेक्ट्स और उपयोग

0

हमारे इस आर्टिकल में आज हम बताने जा रहे हैं Vinegar Meaning in Hindi साथ ही बताऐंगे कि Vinegar कितने प्रकार का होता है, विनेगर कैसे इस्तेमाल किया जाता है। क्या हैं Vinegar के फायदे और नुकसान, तो आईऐ शुरू करते हैं। Vinegar एक प्रकार से हमारे भोजन का ही भाग है जो पश्चिमी और एशियाई देशों में प्राचीन काल से उपयोग किया जाता रहा है। यदि आमतौर पर देखा जाऐ तो विनेगर के 4 प्रकार हैं। 1. माल्ट सिरका (Malt Vinegar), 2. सेब का सिरका (Cider Vinegar), 3. काष्ठ सिरका (Wood Vinegar), 4. कृत्रिम सिरका (Synthetic Vinegar)

Content: Vinegar Meaning in Hindi

Sponsored Ad

Vinegar Meaning in Hindi (विनेगर का हिन्दी अर्थ)

Vinegar का हिन्दी अर्थ है सिरका। सिरका फलों के रस से तैयार किया जाता है और ये कृत्रिम रूप से भी बनाया जाता है। प्राकृतिक और कृत्रिम दोनों प्रकार का सिरका का उपयोग अलग अलग जगह किया जाता है। जैसा कि हमने उपर बताया कि सिरका 4 प्रकार का होता है। माल्ट सिरका प्राय अनाज के द्वारा बनाया जाता है जिसे प्राय: शराब बनाने वाली कम्पनियां प्रयोग में लाती हैं।

इसके बाद आता है सेब का सिरका (Cider Vinegar) सेब या नाशपाती के छिलके से तैयार किया जाता है और इसे विभिन्न प्रकार के पकवानों में इस्तेमाल किया जाता हैं। इसके अन्य क्या उपयोग हैं इन्हे हम नीचे विस्तार से बताऐंगे।

तीसरे नम्बर पर है काष्ठ सिरका (Wood Vinegar). इस प्रकार का सिरका लकड़ी के भंजन आवसन के द्वारा तैयार किया जाता है इसके बाद कृत्रिम सिरका (Synthetic Vinegar) जिसे कृत्रिम कैमिकल White Vinegar के द्वारा बनाया जाता है।

Sponsored Ad

Sponsored Ad

Apple Cider Vinegar Meaning in Hindi (सेब का सिरका)

दोस्तों, विनेगर के सभी प्रकारों में Apple Cider Vinegar यानि सेब के सिरके का बहुत महत्व है जिसके कई फायदे हैं। सेब के सिरके को कई तरह के व्यंजनों में भी इस्तेमाल किया जाता है। सेब का सिरका हमारी सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है लेकिन इसको लेने के लिए कई तरह की सावधानियां भी बरतनी पड़ती हैं नहीं तो इससे हमें नुकसान भी हो सकता है तो आज अपने इस आर्टिकल में हम आपको सिरका (Vinegar), सेब का सिरका (Apple Cider Vinegar Meaning in Hindi) से जुड़ी तमाम जानकारी देने जा रहें हैं। इसके अलावा हम आपको इसके उपयोग और इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स भी बताएंगे।

सेब का सिरका उन चीजों में शामिल है जो आमतौर पर हमारे किचन में होते ही हैं। Apple Cider Vinegar के प्रयोग से कई बीमारियों के खतरे को भी कम किया जा सकता है इसके अलावा औषधीय गुणों से भरपूर सिरका वजन घटाने और लिवर की सेहत के लिए भी फायदेमंद माना जाता है।

एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर सेब का सिरका डायबिटीज़ और कैंसर जैसी बीमारियों से बचाने में भी अहम भूमिका निभाता है। इतने गुणों से भरपूर सिरके का सेवन कब और कैसे करते हैं इसके बारे में पता होना बेहद जरूरी है क्योंकि बहुत कम लोग ही इसका सही इस्तेमाल करना जानते हैं जिसके चलते ये हमारे शरीर को फायदों से अधिक नुकसान भी पहुंचा सकता है।

तो आइये सबसे पहले जान लेते हैं सेब का सिरका कब और कैसे पीना चाहिए और सेब के सिरका का इस्तेमाल किन-किन समस्याओं के उपचार के लिए किया जा सकता है।

नोट: सेब क सिरका आपके लिए कहीं नुकसान न पहुचाऐ इसके लिए, सेवन से पहले किसी अनुभवी चिकि​त्सक से परामर्श अवश्य लें।

सेब के सिरके के सेवन का सही समय

सेब का सिरका हमारे सेहत के लिए बेहद उपयोगी होता है लेकिन कुछ लोग वजन कम करने और शुगर को कंट्रोल करने के लिए सुबह-सुबह सिरके का सेवन करते हैं। वो मानते हैं कि सुबह सिरके का सेवन करने से पूरा दिन शुगर कंट्रोल रहेगी और इसे सुबह खाली पेट लेने से वज़न भी कंट्रोल रहेगा लेकिन आपको बता दें कि कभी भी सुबह-सुबह खाली पेट सिरके का इस्तेमाल ना करें।

सिरके का सेवन आप अपने मकसद के अनुसार और उसी के मुताबिक अलग-अलग समय पर कर सकते हैं। सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) का उपयोग औषधि के रूप में ही करना चाहिए और हमेशा बहुत ही कम मात्रा जैसे 5ml से 10ml से ही इसके सेवन की शुरुआत करें।

Sponsored Ad

वज़न घटाने में कब पियें सेब का सिरका

सेब का सिरका का नियमित सेवन आपके मेटाबॉलिज़्म को अच्छा किया जा सकता है और आपको मोटापे से भी छुटकारा मिल सकता है। इसके लिए रोज रात को सोने से पहले गुनगुने पानी में दो चम्मच सेब के सिरके को मिलाकर पिएं। सेब के सिरके में मौजूद एसिटिक एसिड से भूख कम होती है जिससे वज़न कम करने में मदद मिलती है।

एप्पल साइडर विनेगर प्राकृतिक और ऑर्गेनिक है जिसके कारण इसमें गुड बैक्टीरिया की मात्रा ज्यादा होती है। आयुर्वेद के मुताबिक सेब का सिरका पाचन को बढ़ाकर शरीर में विषाक्त अवशेषों को हटाने में मदद करता है।

सिरके के सेवन में न करें ये गलतियां

एक्सपर्ट इसका प्रयोग करने से पहले कुछ सावधानियां बरतने को कहते हैं अक्सर लोगों को इसका इस्तेमाल करने के दौरान गलतियां करते देखा गया है। आज हम आपको वो गलतियां भी बताने जा रहे हैं जो सिरके के इस्तेमाल के दौरान आपको बिल्कुल नहीं करनी चाहिए।

Apple Cider Vinegar को डायलूट न करें

वजन घटाने की होड़ में हाल के सालों में बहुत से लोगों ने एप्पल साइडर विनेगर का सेवन करना शुरू कर दिया है। यहां तक कि तमाम लोग इसे सुबह सबसे पहले स्वास्थ्य वर्धक वेलनेस शॉट के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं लेकिन एक्सपर्ट के अनुसार आपको इसे कभी भी अकेले यानी डायरेक्ट नहीं पीना चाहिए। आशा है आपको हमारा आर्टिकल Vinegar Meaning in Hindi पसंद आ रहा होगा।

Apple Cider Vinegar का अगर आप डायरेक्ट सेवन करते हैं तो आपको एसिडिटी की समस्या हो सकती है क्योंकि सेब का सिरका बहुत अम्लीय (Acidic) होता है इसलिए इसको अकेले पीने से बचेना चाहिए। एक बड़े गिलास पानी में एक चम्मच Apple Cider Vinegar मिलाकर खाने के साथ पीने से काफी फायदा मिलता है इसके अलावा आप इसे नींबू के रस, शहद के साथ भी पी सकते हैं।

सेब के सिरके को खाली पेट पीने से भयंकर नुकसान हो सकते हैं। इससे आपके गले में इंफेक्शन हो सकता है और एसिडिटी की समस्या भी हो सकती है, यहां तक की आपका गला भी खराब हो सकता है। इसलिए भूलकर भी इसका सेवन खाली पेट न करें।

कई बार या अधिक मात्रा में न करें इस्तेमाल

अम्लीय खाद्य पदार्थ होने के कारण Apple Cider Vinegar दांतों के लिए हानिकारक माना जाता है। इसके ड्रिंक्स आपके दांतों को गंभीर नुकसान पहुंचा सकते हैं। खासकर यदि आप इसका बार-बार सेवन कर रहे हैं। यही वजह है कि एप्पल साइडर विनेगर को पतला करना जरूरी होता है।

बिना पतला किए यह आपके दांतों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अधिक सेवन से कैविटी और दांतों की सड़न हो सकती है। इसका सेवन करते समय सिरके का संपर्क दांतों से न होने दें। साथ ही इसे पीने के तुरंत बाद ब्रश न करें।

ये लोग न करें सिरके का सेवन

निश्चित रूप से जो चीज़ आपको किराने की दुकान पर आसानी से मिल जाती है, उसे आप बिना सोचे समझे खरीद लेते हैं लेकिन जिन चीजों के बारे में आपको पूरी जानकारी न हो, उनका प्रयोग करने से पहले आपको दो बार सोचना जरूर चाहिए। खासकर उन्हें, जो किसी हेल्थ प्रॉब्लम्स से जूझ रहे हैं।

उदाहरण के लिए, ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित महिलाओं को इसके सेवन से सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है क्योंकि इसमें हाई एसिड का स्तर नई हड्डियों के निर्माण के लिए हानिकारक हो सकता है। आयुर्वेदिक डॉक्टर भी मानते हैं कि ये कुछ मामलों में हड्डियों को नुकसान पहुंचा सकता है। वहीं, यदि आप कोई डायबिटीज़ कम करने वाली दवाएं ले रहे हैं तो किसी भी प्रकार के सिरके का सेवन बढ़ाने से पहले अपने चिकित्सक से जांच करानी चाहिए।

Sponsored Ad

ये भी पढ़ें: Chia Seeds In Hindi – जानिये चिया सीड्स के फायदे, कितना और कैसे करें सेवन

यदि आप एप्पल विनेगर के बारे में इंटरनेट पर पढ़ी गई हर बात पर विश्वास करते हैं, तो यह एक आपको पौराणिक इलाज की तरह लग सकता है। सेब का सिरका कुछ लाभ प्रदान करता है लेकिन यह कोई चमत्कारी दवा नहीं है। इसलिए आपको इसे लेने से पहले कुछ सावधानियां भी बरतनी चाहिए।

सेब के सिरके का उपयोग (Apple Cider Vinegar Uses)

हमारे इस लेख Vinegar Meaning in Hindi में अब बात करते हैं सिरके ​के उपयोग की। सेब के सिरके का उपयोग आप कई चीजों के लिए कर सकते हैं। त्वचा में निखार लाने, बालों से रुसी हटाने के अलावा मोटापा दूर करने में सेब के सिरका (Apple Cider Vinegar) काफी असरदार माना जाता है। इसी वजह से इसका सबसे अधिक उपयोग मोटापा कम करने के लिए ही किया जाता है। हालांकि सेब के सिरके के फायदों से जुड़े वैज्ञानिक शोध और प्रमाण काफी कम है लेकिन इसके औषधीय गुणों के कारण लोग इसे हेल्थ सप्लीमेंट की तरह इस्तेमाल करते हैं।

Apple Cider Vinegar Benefits in Hindi (सेब के सिरके के फायदे)

सेब के सिरके का उपयोग औषधि के रुप में ही करना चाहिए और हमेशा बहुत ही कम मात्रा (5-10ml) से इसके सेवन की शुरुआत करें। आईये इस लेख Vinegar Meaning in Hindi में जानते हैं सेब के सिरके के फायदे, नुकसान और सेवन विधि के बारे में।

सेब के सिरके के पोषक तत्व

एप्पल साइडर विनेगर में एसिटिक एसिड की मात्रा काफी ज्यादा होती है और एसिटिक एसिड दिल के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) में कई एंजाइम, प्रोटीन, विटामिन और लाभ पहुंचाने वाले बैक्टीरिया मौजूद होते हैं।

Apple Cider Vinegar के औषधीय गुण

सेब के सिरके में ऐसे गुण होते हैं जो हमें कई तरह की बीमारियों से बचाते हैं। यह शरीर में ज़रुरी पोषक तत्वों के अवशोषण को बढ़ाने में भी मदद करती है जिससे आप जो भी चीज खातें हैं उसका पूरा फायदा शरीर को मिलता है। पाचन को दुरुस्त रखने के अलावा या डायबिटीज और कैंसर जैसी बीमारियों से बचाव करती है और शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सेब के सिरके को पीने के अलावा त्वचा पर लगाया भी जाता है। इसमें एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो मुंहासो आदि त्वचा संबंधित समस्याओं से आराम दिलाते हैं।

वजन कम करने में मदद

सेब के सिरके का सबसे ज्यादा उपयोग वज़न कम करने के लिए ही किया जाता है। लोगों की अच्छी खासी तादात इस समय मोटापे से परेशान है, ऐसे में सेब का सिरका मोटापे की समस्या दूर करने में काफी हद तक लाभदायक है। यह शरीर की अतिरिक्त कैलोरी को जलाने का काम करता है और खासतौर पर बेली फैट को कम करने में मदद करती है।

सेवन विधि: वजन कम करने के लिए एक गिलास गुनगुने पानी में 1 से 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर सुबह इसका सेवन करें।

डायबिटीज़ में फायदेमंद

Sponsored Ad

विशेषज्ञों के अनुसार सेब के सिरके में ऐसे गुण होते हैं जो डायबिटीज़ को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं। यह ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में प्रभावी भूमिका निभाता है। इसलिए डायबिटीज़ के मरीज़ इसका सेवन चिकित्सक के परामर्श पर कर सकते हैं।

सेवन विधि: एक गिलास नार्मल पानी में 1 से 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर खाना खाने से आधे घंटे पहले दिन में 2 बाद इसका सेवन करें। रात में सोने से पहले इसका सेवन करना ज्यादा फायदेमंद माना जाता है।

पेट फूलने की समस्या में राहत

सेब के सिरके का सेवन करने से पेट से जुड़े विकारों में राहत मिलती है। सिरके के अम्लीय गुण पेट की पाचन शक्ति को और बढ़ाते हैं जिससे पाचन तंत्र दुरुस्त होता है और पेट फूलने या अपच जैसी समस्याओं में राहत मिलती है।

सेवन विधि: इसके लिए एक गिलास पानी में 1 से 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर इसका सेवन करें।

मुंहासों में फायदेमंद

सेब के सिरके का इस्तेमाल मुंहासे की समस्या दूर करने में भी बहुत उपयोगी है। आमतौर पर मुंहासो की समस्या बैक्टीरिया के कारण होती है। सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) में मौजूद एसिड की ज्यादा मात्रा बैक्टीरिया को समाप्त कर देती है साथ ही संक्रमण को और ज्यादा फैलने से रोकती है। यह त्वचा के pH लेवल को भी कंट्रोल रखती है। मुंहासो के कारण चेहरे पर जो धब्बे या निशान पड़ जाते हैं उन पर सेब का सिरका लगाने से उनका रंग फीका हो जाता है।

उपयोग की विधि: इसके लिए एक से तीन ML सेब के सिरके में थोड़ा पानी मिलाकर सिरके को सीधे मुंहासो पर लगाएं और रात भर सूखने दें। सुबह साधारण पानी से धो लें। ऐसा कुछ दिन करने से मुंहासे पूरी तरह समाप्त हो जाते हैं।

हमारा ये लेख Vinegar Meaning in Hindi यदि आपको अच्छा लगा है तो कमेंट अवश्य करें।

त्वचा के निखार के लिए सेब का सिरका

कई लोगों का मानना है कि सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) के उपयोग से त्वचा और साफ होती है जबकि ऐसा नहीं है। गोरा करने की बजाय सेब का सिरका चेहरे और त्वचा पर मौजूद दाग धब्बों को कम करता है जिससे त्वचा पहले के मुकाबले ज्यादा साफ और चमकदार नजर आती है।

उपयोग विधि: सेब के सिरका और पानी को 1:3 के अनुपात में मिलाऐं। अब इस मिश्रण में रुई भिगोयें और उसे त्वचा के प्रभावित हिस्से पर लगाएं, यदि ज़रुरत हो तो पूरे चेहरे पर लगाएं। इसके बाद इसे साधारण पानी से धो लें। अगर आपकी त्वचा बहुत संवेदनशील है तो मिश्रण में पानी की मात्रा बढ़ा दें।

डैंड्रफ दूर करने में सहायक (Apple Cider Vinegar for Dandruff)

अगर आप बालों में डैंड्रफ, रूसी से परेशान हैं तो सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) से आप डैंड्रफ की समस्या को समाप्त कर सकते हैं। सेब के सिरके में मौजूद एसिड, रूसी को बढ़ने से रोकते हैं और बालों में मौजूद तेल की ज्यादा मात्रा को कम करते हैं।

उपयोग विधि: डैंड्रफ और ऑयली बालों से छुटकारा पाने के लिए 10-15ml एप्पल साइडर विनेगर में 1 से 2 गिलास पानी मिलाकर इसे पतला करें और फिर इसे सिर की त्वचा और बालों की जड़ों में लगाएं। अच्छे परिणामों के लिए हफ्ते में 2 बार इसका प्रयोग करें।

Sponsored Ad

हानिकारक बैक्टीरिया खत्म करता है सिरका

सेब का सिरका बैक्टीरिया को समाप्त करने में असरदार भूमिका निभाता है। इसी गुण के कारण सेब के सिरके को फ़ूड प्रिजरवेटिव के रुप में भी प्रयोग किया जाता है। यह खाने पीने वाली चीजों में बैक्टीरिया को फैलने और संक्रमण फैलाने से रोक देता है। इसीलिए अचार या खाने पीने की कुछ ख़ास चीजों को लम्बे समय तक खराब होने से बचाने के लिए उसमें सिरके का प्रयोग किया जाता है।

कोलेस्ट्रॉल घटाने में मदद

आजकल दिल के बीमारों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है और इसकी सबसे मुख्य वजह शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल का बढ़ना है। जानवरों पर कुछ शोध के अनुसार सेब का सिरका कोलेस्ट्रॉल और ट्राईग्लिसराइड के स्तर को कम करता है। इससे दिल की कई बीमारियों से बचाव होता है।

सेवन विधि: 1 गिलास सादे पानी में 1 से 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर खाना खाने के आधे घंटे पहले दिन में 2 बार इसका सेवन करना चाहिए।

गले की खराश ठीक करता है सेब का सिरका

मौसम में बदलाव होने के कारण या ठंडी गरम चीजें खाने के कारण गले में खराश होना एक आम समस्या है। यदि आप गले की खराश से परेशान रहते हैं तो सेब का सिरका आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण गले की खराश से काफी जल्दी आराम दिलाते हैं।

सेवन विधि: रात में सोने से पहले 1 गिलास गुनगुने पानी में 1 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर पियें।

लीवर के लिए सेब का सिरका

कुछ विशेषज्ञों के अनुसार सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) में ऐसे गुण पाये जाते हैं जो हानिकारक टॉक्सिन को शरीरी से बाहर निकालते हैं और लीवर को साफ करते हैं। इस तरह यह लीवर की कार्यक्षमता बढ़ाता है और उसे स्वस्थ रखने में मदद करता है।

सेवन विधि: 1 चम्मच एप्पल साइडर विनेगर को 1 गिलास साधारण पानी में मिलाकर दिन में 2 बार खाने से आधे घंटे पहले सेवन करना चाहिए।

सेब के सिरके के साईड इफेक्ट (Side Effects of Apple Cider Vinegar)

Vinegar Meaning in Hindi

हमारे इस लेख Vinegar Meaning in Hindi में अब बात करते हैं सिरके ​के साईड इफेक्ट्स के बारे में। दोस्तों, ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि सेब के सिरके से सिर्फ फायदे ही हाते हैं बल्कि अगर आप इसके सेवन से जुड़ी सावधानियां नहीं लेते हैं तो आपको सेब के सिरके के साइड इफ़ेक्ट का भी सामना करना पड़ सकता है। आइये जानते हैं कि सेब के सिरके का प्रयोग करने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

आर्थराइटिस वाले मरीज करें परहेज

Sponsored Ad

अगर आपकी बोन मिनरल डेंसिटी कम है या आप ऑस्टियोपोरोसिस और ऑस्टियोआर्थराइटिस जैसी बीमारियों से पीड़ित हैं तो सेब का सिरका (Apple Cider Vinegar) का सेवन करने से पहले किसी चिकित्सक से सलाह अवश्य लें।

फलों के जूस से परहेज करें

सेब के सिरके का प्रयोग नींबू या संतरे जैसे खट्टे फलों के जूस के साथ बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए क्योंकि सिरके में पहले से ही एसिटिक एसिड की मात्रा काफी ज्यादा होती है। एप्पल साइडर विनेगर का प्रयोग करने से पहले इसमें पानी मिलाकर इसे पतला कर लें।

चाय या कॉफ़ी के तुरंत बाद ना करें सेवन

चाय या कॉफ़ी पीने के तुरंत बाद सेब के सिरके (Apple Cider Vinegar) का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि इन पेय पदार्थों में मौजूद कैफीन आपकी पाचन शक्ति को प्रभावित कर सकती है।

त्वचा पर लगाने में सावधानी

अगर आप त्वचा पर सेब के सिरके का इस्तेमाल करना चाह रहे हैं तो ये समझ लें कि यह बहुत तीव्र अम्लीय (Acidic) होता है। यदि इसमें बिना पानी मिलाये आप इसे त्वचा पर लगायेंगे तो आपकी त्वचा को नुकसान भी हो सकता है। इसलिए सेब के सिरके का इस्तेमाल करने से पहले अपनी स्किन पर इसका पैच टेस्ट अवश्य कर लें और उसके बाद ही इसे उपयोग में लायें।

दांतों के लिए नुकसानदायक

सेब के सिरका आपके दांतों को नुकसान पहुंचा सकता है सेब के सिरके में पाये जाने वाला एसिड आपके दांतों की उपरी परत जिसे हम इनैमल कहते है उसे नुकसान पहुंचा सकता है। इससे दांतों में कैविटी का खतरा भी अधिक बढ़ जाता है इसलिए अगर आप सेब के सिरके का इस्तेमाल करते है तो इसका प्रयोग करते समय कुछ बातों का जरूर ख्याल रखें।

दांतों के लिए 1 कप पानी में 2-3 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर लें। सिरके वाले पानी को पीने के लिए स्ट्रॉ का प्रयोग करे ताकि एसिड का संपर्क दांतों से न हो सके। इसके अलावा जब भी आप सिरके का प्रयों करें उसके तुरंत बात कभी भी ब्रश का इस्तेमाल ना करें क्योंकि सिरके का सेवन करने के तुरंत बाद दांतों का उपरी परत कमजोर अवस्था में रहती है और ब्रश करते समय वो पूरी तरह हट सकती है। आशा है आपको Vinegar Meaning in Hindi अच्छे से समझ आ गया होगा।

सेब के सिरके को स्टोर कैसे करें

सेब का सिरके के लिए सबसे बड़ी चुनौती है कि सिरके को खराब होने से कैसे बचाया जाए और लंबे समय तक आप सेब के सिरके को सही सलामत कैसे रख सकते है। सेब के सिरके को खराब होने से बचाने के लिए ये आवश्यक है कि सिरके को सही तरीके से स्टोर करें। इसे आप ठंडी व शुष्क जगह पर ही रखें और ज्यादा गर्मी या सीधे धूप से दूर रखें।

एप्पल साइडर विनेगर को कभी भी फ्रिज में नही रखें। जिस भी बोतल में सेब के सिरके को रखा गया है तो इस बात का पूरा ध्यान रखें की उसका ढक्कन टाइट बंद होना चाहिए जिससे सिरके के स्वाद और सुगंध में कोई बदलाव ना आ सके।

ये भी पढ़ें: Chia Seeds In Hindi – जानिये चिया सीड्स के फायदे, कितना और कैसे करें सेवन

हमने आपको सेब के सिरके के फायदे और नुकसान के बारे में बताया। आप किस तरह से सिरके का इस्तेमाल करें इस बारे में भी जानकारी दी। आप अपने हिसाब से सेब के सिरके का इस्तेमाल कर सकते है और यदि सेब के सिरके का इस्तेमाल करते समय आपको किसी तरह की समस्या होती है तो अपने नजदीकी डॉक्टर से परामर्श लें।

Sponsored Ad

विनेगर कैसे बनाते हैं?

अभी तक आपने पढ़ा की सेब के सिरके के फायदे क्या हैं और क्या नुकसान होता है। अब हम आपको सेब का सिरका बनाने की विधि बताएंगे ताकि आप घर पर ही सेब का सिरका आसानी से बना सकें।

सेब का सिरका बनाने की विधि:

  • सेब का सिरका बनाने के लिए लगभग 10 आर्गेनिक सेब लें और उन्हें अच्छी तरह से पानी में धो लें।
  • सेब को साफ करने के बाद चाकू की मदद से इन्हें छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • कटे हुए सेब के टुकड़ों को कुछ देर के लिए अलग रख दें और उनके भूरे रंग का होने का इंतज़ार करें।
  • जब सेब के टुकड़े भूरे रंग के हो जाएं तो इन सेब के टुकड़ों को एक बड़े मुँह वाले कांच के जार में डाल दें और फिर जार में पानी डाल दें ताकि सेब पूरी तरह से पानी में डूब जाए।
  • जार को जालीदार कपडे से ढक दें लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि जिस कपड़े से आप जार को ढक रहें है वो कपड़ा ज्यादा तंग ना हो। जार पर कपड़ा रखते वक्त इस बात का भी ध्यान रखा जाना चाहिए कि सेब के टुकड़ों को ऑक्सीजन मिलता रहे।
  • सिरके को पकाने के लिए किसी गर्म और अंधेरे वाली जगह पर रख दें।
  • जार को 6 महीनों तक गर्म और अंधेरी जगह पर रखे और हर हफ्ते इसे चलाते रहें।
  • 6 महीने की फर्मेंटेशन के बाद जब जार को आप बाहर निकालेंगे तो आपको जार में सबसे उपर एक परत जमी मिलेगी ये बैक्टीरिया की वजह से होता है इसका मतलब है कि फर्मेंटेशन हो चुकी है।
  • अब एक दूसरा बड़े मुँह वाला जार लें और इस पेय को जालीदार कपड़े की मदद से दूसरे जार में छान लें।
  • अब एक बार फिर जार को कपड़े से ढककर 5-6 हफ़्तों के लिए गर्म और अंधेरी जगह पर रख दें।
  • 5 या 6 हफ़्ते बाद सेब का सिरका पूरी तरह से बन कर तैयार हो जाएगा।

हमारे लेख Vinegar Meaning in Hindi अब आपके सवालों के जवाब।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

आईये अब जानते हैं पाठकों के साधारण सवालों के जवाब

प्रश्न: सेब का सिरका कितने दिन तक पीना चाहिए?
उत्तर: दिनभर में ज्यादा बार या ज्यादा मात्रा में सेब का सिरका न पिएं। इसके अलावा खाना खाने के बाद या सोने से पहले भी सेब का सिरका न पीएं। आप चाहें तो खाना खाने से पहले या सुबह सेब का सिरका पी सकते हैं।
प्रश्न: सेब का सिरका का उपयोग कैसे करें?
उत्तर: एप्पल साइडर विनेगर यूज़ करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप इसे अपने भोजन में डालकर यूज करें। आप इसे सलाद ड्रेसिंग में या फिर मेयोनीज में भी मिक्स कर सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो 1 गिलास पानी में 1 से 2 चम्मच (5–10mL) एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं और पी लें।
प्रश्न: 1 हफ्ते में वजन घटाने के लिए सेब का सिरका कैसे पियें?
उत्तर: सेब का सिरका कई मायनों में फायदेमंद है। वहीं वजन को कम करने में भी इसकी अहम भूमिका है क्योंकि इसमें एसिटिक एसिड पाया जाता है जो मेटाबोलिज्म को सुधारता है। इससे पेट और लिवर पर फैट जमा नहीं होता है और भूख भी कम लगती है।
प्रश्न: सबसे अच्छा एप्पल साइडर विनेगर कौन सा होता है?
उत्तर: वैसे तो मार्केट में कई तरह के सेब का सिरका उपलब्ध होता है लेकिन इसे खरीदने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है जैसे सेब का सिरका खरीदने के लिए उसके रंग पर जरुर ध्यान दें जैसे सेब के सिरके का रंग लेमन यैल्लो से लेकर ब्राउनिश औरेंज तक हो सकता है इसका रंग उन सेब पर निर्भर करता है जिनसे इन्हें बनाया गया हो। गुलाबी रंग के सेब से बना सिरका पीले रंग का होगा और लाल रंग के सेब से बने सिरके का रंग गाढ़ा होगा कुछ ब्रांड के सिरके ब्लीच किए हुए सेब से भी बनते हैं जो सफेद या फिर रंगहीन होते हैं। सिरके के लेबल पर इसका एसिडिटी लेवल लिखा होता है 5 प्रतिशत एसिडिटी लेवल वाले सिरके को बेस्ट माना जाता है।
प्रश्न: एप्पल साइडर विनेगर कितने का आता है?
उत्तर: मार्केट में कई तरह का सेब का सिरका उपलब्ध हैं जिनके अलग–अलग दाम हैं वैसे मार्केट में ये 100 रुपये से 500 रुपये तक मिल जाएगा।
प्रश्न: सिरका पीने से क्या लाभ है?
उत्तर: सेब के सिरके के कई फायदे हैं। आपको अपनी जरूरत और बीमारी के हिसाब से इसका उपयोग करना चाहिए जैसे वज़न कम करने में, डायबिटीज, त्वचा, डैंड्रफ दूर करने में, कोलेस्ट्रॉल कम करने, लीवर आदि के लिए फायदेमंद होता है। इस लेख Vinegar Meaning in Hindi में लगभग सभी लाभ उपर पहले ही बता दिये गये हैं।
प्रश्न: सेब का सिरका कब और कैसे पीना चाहिए?
उत्तर: दिनभर में कई बार या अधिक मात्रा में सेब का सिरका नहीं पीना चाहिए। इसके अलावा खाना खाने के बाद या सोने से पहले भी एप्पल साइडर विनेगर न पिएं बाकी अपनी जरुरत के हिसाब से अलग–अलग तरीकों से इसका इस्तेमाल करें।

ये था हमारा जानकारी से भरपूर आर्टिकल Vinegar Meaning in Hindi. आपको कैसा लगा कृपया हमें कमेंट करके अवश्य बताऐं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x