2015 के बेअदबी मामले में सिद्धू ने केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा “कौन रोक रहा है”

0

चंडीगढ़, 25 मार्च। 2015 के बेअदबी मामले पर पंजाब कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा (Sidhu Targets Kejriwal) और उनसे पूछा कि राज्य में आम आदमी पार्टी की सरकार को धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने से कौन रोक रहा है।

नवजोत सिद्धू ने शेयर किया विडियो

Sponsored Ad

पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने पिछले साल का पुराना वीडियो क्लिप अपने सोशल मिडिया पर साझा किया है जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ये कह रहे हैं कि बेअदबी की घटनाओं के आरोपियों के खिलाफ 24 घंटे के भीतर कार्रवाई की जा सकती है। इसी विडियो क्लिप को शेयर करते हुए सिद्धू ने ट्वीट किया, तो “अब आपको कौन रोक रहा है…अरविंद केजरीवाल।”

सिद्धू ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक पुराना वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें अरविन्द केजरीवाल को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि पंजाब के लोग 2015 में फरीदकोट में हुईं बेअदबी की घटनाओं पर निष्क्रियता से नाराज हैं।

केजरीवाल ने मीडिया को संबोधित किया था

Sponsored Ad

Sponsored Ad

आपको बता दें कि केजरीवाल ने वीडियो क्लिप में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा था, बेअदबी की घटनाओं के सरगनों को अब तक दंडित नहीं किया गया है। मुझे यह बताने की आवश्यकता नहीं है कि सरगने कौन हैं। कुंवर विजय प्रताप सिंह की रिपोर्ट में उनके नाम हैं, और (चरणजीत सिंह) चन्नी साहब उसे देख सकते हैं। दोषियों को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार किया जा सकता है।

कांग्रेस विधायक और भूतपूर्व हॉकी कप्तान परगट सिंह ने भी वही वीडियो क्लिप शेयर किया है और अरविन्द केजरीवाल एवं पंजाब के नव निर्वाचित मुख्यमंत्री भगवंत मान से सवाल किया है (Sidhu Targets Kejriwal), “तो करो ना……. अब किसने रोका हुआ है आपको ???”

विजय प्रताप सिंह थे जांच दल का हिस्सा

पूर्व IPS Officer कुंवर विजय प्रताप सिंह पंजाब के कोटकपूरा और बहबल कलां में 2015 में हुई पुलिस गोलीबारी की घटनाओं की जांच करने वाले विशेष जांच दल का हिस्सा थे और वे पिछले साल आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे।

इस साल हुए पंजाब चुनाव में अमृतसर उत्तर विधानसभा क्षेत्र से विधायक भी चुने गए। बता दें कि फरीदकोट में 2015 में बेअदबी और उसके बाद पुलिस गोलीबारी की घटना हुई थी। उस समय पंजाब में शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी की सरकार सत्ता में थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.