Shihab Chittur: हज के लिए निकले शिहाब चित्तूर को लेकर आया नया अपडेट, पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल

0

नई दिल्ली, मल्लापुरम, केरल के निवासी भारतीय हज यात्री शिहाब चित्तूर (Shihab Chittur) को लेकर एक नया अपडेट सामने आया है। 2 जून 2022 से एक भारतीय, शिहाब चित्तूर ने हज (साउदी अरब) के लिए पैदल यात्रा की शुरूआत की लेकिन उनकी इस यात्रा में कई तरह की पेरशानियां आई। मक्का मदीने तक की यात्रा में उन्हे कई देशों से होकर गुज़रना था लेकिन वे पाकिस्तान के बॉर्डर (Shihab Chittur Live Location Today Hindi) पर ही रोक दिये गये।

सुरक्षा कारणों का हावाला देते हुए पाकिस्तान की सरकार ने उन्हे (Shihab Chittur) वीज़ा देने से इंकार कर दिया जिसका पाकिस्तान की जनता द्वारा और सोशल मिडिया पर काफी विरोध भी हुआ। अब इस मामले को लेकर अब नया मोड़ सामने आया है जिसमें पाकिस्तान के एक नागरिक ने पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल की है।

Sponsored Ad

वाधा बॉर्डर पर शिहाब (Shihab Chittur Live Location Today Hindi)

29 वर्षीय शिहाब चित्तूर फिलहाल पाकिस्तान और भारत के बीच वाधा बॉर्डर (Shihab Chittur Live Location Today Hindi) पर रोक दिये गऐ हैं परन्तु उन्हे पाकिस्तान से होकर गुज़रने के लिए पाकिस्तानी वीज़ा की आवश्यकता है। शिहाब को पाकिस्तान के बॉर्डर पर रोके जाने के विरोध में पाकिस्तान के एक व्यक्ति ने पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट में शिहाब को ट्रांजिट ​वीज़ा दिये जाने की मांग की है ताकि शिहाब अपनी हज यात्रा को पूरा कर सकें। ये पहली बार है कि कोई व्यक्ति लगभग 8 हज़ार 640 किलोमीटर की लंबी यात्रा पैदल कर रहा है।

लाहौर निवासी सरवर ताज की याचिका

लाहौर के रहने वाले सरवर ताज ने जो याचिका दाखिल की है उसके अनुसार उनका तर्क है कि जब पाकिस्तान सरकार, बाबा गुरु नानक देव जी की जयंती के लिए सिक्ख भाईयों को वीज़ा दे सकती है और हिन्दू भाईयों को उनके पवित्र स्थानों के लिए वीज़ा जारी करती है तो भारतीय मुस्लिम शिहाब चित्तूर को वीज़ा देने से इंकार क्यों किया गया है। सरवार ताज और पाकिस्तान की जनता चाहती है कि सरकार शिहाब को वीज़ा दे ​ताकि वे अपनी आगे की यात्रा पूरी कर सकें।

Sponsored Ad

Sponsored Ad

शिहाब चित्तूर और उनकी हज यात्रा

शिहाब चित्तूर (Shihab Chittur), ऐसे पहले हज यात्री हैं जो इतनी लंबी यात्रा पैदल करना चाहते हैं। भारत से निकले शिहाब को पाकिस्तान, ईरान, इराक और कुवैत से होकर गुज़रना होगा लेकिन उन्हे पाकिस्तान द्वारा वाघा बॉर्डर पर ही रोक दिया गया है। शिहाब अब यहां से वापिस नहीं जाना चाहते हैं क्योंकि वे गुजरात और राजस्थान से होते हुए 3000 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर चुके हैं। उन्होने एक दिन में 25 से 30 किलोमीटर की पैदल यात्रा की है ​अब उन्हे पाकिस्तान सरकार की ओर से उम्मीद है कि वे उन्हे वीज़ा अवश्य मिलेगा।

gadget uncle desktop ad
shihab chittur live location today hindi
Shihab Chittur Live Location Today Hindi

शिहाब चित्तूर का परिवार (Shihab Chittur Family)

Shihab Chittur एक मिडिल क्लास फैमिली (Shihab Chittur Family) से ताल्लुक रखते हैं और अक्सर अपनी मां का जिक्र कर करते हैं लेकिन उन्होने कभी अपनी फैमिली के बारे में ज्यादा नहीं बताया है। वैसे उनके सोशल मिडिया पर कई फोटोज़ उपलब्ध हैं जो उनकी फैमिली की हो सकती है। ‘द न्यूज़गेल’ इसकी पुष्टि नहीं करता है।

आपको बता दें कि पहले भी लाहौर की हाई कोर्ट में शिहाब के पक्ष में याचिका दायर की गई थी लेकिन हाई कोर्ट ने याचिका खारिज कर दी थी। हाई कोई के इसी फैसले के विरोध में अब इस याचिका को पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x