कोरोना खौफ पर भारी शराब का नशा

0 335

भारत में लॉक डाउन का तीसरा चरण सोमवार 4 मई से शुरू हुआ। तीसरे चरण के पहले दिन से सरकारी शराब की दुकानें खोलने की अनुमति दे दी गई। जिस कारण सुबह 6:00 बजे से ही शराब की दुकानों पर भारी भीड़ का हुजूम उमड़ पड़ा।

कहीं पर डेढ़ किलोमीटर लंबी लाइन तो कहीं पर 2 किलोमीटर लंबी लाइन तक देखी गई।

भारी भीड़ द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना होने के कारण पुलिस को शराब की दुकानों को बंद करना पड़ा।

लॉक डाउन के कारण लगभग 40 दिनों से शराब की दुकानें बंद है। उनके खुलने की खबर के कारण लोग सुबह से ही शराब की दुकानों के बाहर जमा हो गए।

भारी भीड़ को देखते हुए पुलिस ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की। लेकिन भीड़ इस कदर बेकाबू थी कि सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही थी इसके बाद जब लोग बेकाबू हो गए तो पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ा और शराब की सभी दुकानों को बंद कर दिया गया।

फिलहाल हालात यह है कि शराब की सारी दुकानों को बंद करके उनके बाहर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

लक्ष्मी नगर में पुलिस बल प्रयोग

सबसे ज्यादा भीड़ पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मीनगर की शराब की दुकानों पर जमा हुई। लक्ष्मी नगर में भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ा और शराब की दुकान पर पुलिस को तैनात करना पड़ा।

बावजूद इसके लोग घंटों शराब की दुकान खुलने का इंतजार करते रहे। पुलिस द्वारा लोगों को बार-बार खदेड़ा गया पर कुछ लोग अब भी शराब की दुकान के खुलने के इंतजार में बाहर ही डटे हुए हैं।

दिल्ली के करोलबाग इलाके में भी यही स्थिति

दिल्ली के करोलबाग इलाके में भी शराब की दुकानों पर इसी तरह से भीड़ जमा हो गई जिसके कारण सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा था। इसलिए यहां भी पुलिस के द्वारा शराब की दुकानों को बंद करा दिया गया।

हरियाणा में महंगी बिक रही है शराब

लगभग 1 महीने के बाद खुल रही शराब की दुकानों पर भारी भीड़ जमा हुई। लोग सुबह-सुबह ही शराब की दुकानों पर पहुंच गए और अपनी बारी आने का इंतजार करते रहे।

लाइन में लगे हुए एक ग्राहक ने न्यूज़ एजेंसी ए एन आई को बताया कि हरियाणा में शराब बहुत ही महंगी मिल रही है। जिस क्वार्टर का दाम ₹30 था वह अब ₹300 में बिक रहा है। इससे अच्छा तो सरकारी दुकान से ही टैक्स देकर शराब खरीद ले।

Leave A Reply

Your email address will not be published.