दिल्ली के विजय विहार में पति ने पत्नी को चाकुओं से गोदा, पत्नी की जॉब से था नाखुश

0 151

दिल्ली के विजय विहार इलाके में एक खूनी वारदात सामने आई है। विजय विहार में शनिवार 10 अप्रैल को एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की चाकू से गोद कर हत्या कर दी। यूवक को हिरासत में ले लिया गया है। व्यक्ति का नाम हरीश मेहता बताया जा रहा है और वो गुजरात के राजकोट का रहने वाला था।

पुलिस ने केस की छानबीन करते हुए बताया विजय विहार की एक पुलिस टीम ने हरीश मेहता को धर दबोचा जिसने दिन—दहाड़े अपनी पत्नी का बेरहमी से कत्ल किया था और उसके पास से खून से सना चाकू भी बरामद कर लिया गया है।

पीसीआर कॉल पर की कार्यवाही

पुलिस ने बताया कि 10 अप्रैल को पीसीआर की काल मिलने पर बीट कांस्टेबल राकेश और मनोज ने, जो अपने एरिया में गश्त कर रहे थे, हरीश मेहता का पीछा किया और उसे पकड़ लिया। हरीश अपनी पत्नी को चाकू मारने के बाद भाग रहा था।

पीड़िता नीलू जो खून से लथपथ स​​ड़क के किनारे पड़ी थी उसे आनन फानन में ऐंम्बूलेंस के द्वारा नज़दीकी संजय गांधी अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस

घटनाक्रम के मध्यनज़र पुलिस ने हरीश मेहता के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है पुलिस आगे की कार्यवाही कर रही है।

अस्पताल में काम करती थी पत्नी

पूलिस पूछताछ के दौरान हरीश ने बताया कि उसकी शादी नीलू से हाल ही में हुई थी। नीलू दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में काम करती थी जो हरीश को पसंद नहीं था। उसने अपनी पत्नी से अस्पताल की नौकरी छोड़ने और घर की देखरेख करने को कहा जिस पर नीलू ने ये सब मानने से इंकार कर दिया।

पुलिस ने कहा कि हरीश को ये भी संदेह था कि उसकी पत्नी नीलू के कुछ अवैध संम्बध हो सकते हैं। नीलू का पहले भी एक तलाक हो चुका था जिससे हरीश की धारणा ओर मजबूत हो गई।

पुलिस रीड बयान के अनुसार कुछ समय बाद नीलू ने अपना वैवाहिक घर छोड़ दिया और वो अपने माता पिता के साथ बुध विहार फेज़ 1 दिल्ली में रहने लगी। इस पर आवेश में आकर हरीश ने अपनी पत्नी को खत्म करने का फैसला लिया और इसे अंजाम देने के लिए बाजार से एक चाकू खरीदा।

दिन दहाड़े चाकू से हमला

10 अप्रैल को दोपहर 2 बजे नीलू काम के बाद घर लौट रही थी इसी दौरान हरीश ने अपनी पत्नी को चाकू मार दिया।

पुलिस के अनुसार हरीश दिल्ली के एक मैरिज ब्यूरो में काम करता कर रहा था और कुछ समय पहले ही मैट्रिमोनियल साइट के द्वारा नीलू के सम्पर्क में आया था और इसके बाद दानों ने शादी करने का फैसला किया। शादी के कुछ समय बाद ही उनका कठिन समय शुरू हो गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.